Taaja khabar Aaj ka (आज की ताजा खबर)
Trending

हिन्दू-मुस्लिम एकता की एक अनूठी मिसाल | गोरखपुर मुस्लिम कारीगर कांवड़ यात्रियों के लिए पोशाक तैयार कर रहे हैं। Hindu Muslim unity gorakhpur uttar pradesh

Taaja khabar Aaj ka. भगवान शिव का प्रिय महीना सावन शुरू हो चुका है। सावन का महीना शुरू होने के साथ ही कांवड़ यात्रा की शुरुआत भी हो चुकी है। कांवड़िए अपने कांवड़ में गंगाजल लेकर भोले बाबा के दरबार में जल चढ़ाने के लिए अपने गंतव्य की ओर रवाना हो रहे हैं। ऐसे में गोरखपुर से सामाजिक सौहार्द्र और हिन्दू-मुस्लिम एकता की एक अनूठी मिसाल देखने को मिल रही है। गोरखपुर के कई मुस्लिम कारीगर कांवड़ यात्रियों को धारण करने वाली पोशाकें तैयार कर रहे हैं।

भगवान शिव के भक्तों की पोशाक तैयार करने के लिए यहां दर्जनों मुस्लिम कारीगर दिन-रात मेहनत कर काम कर रहे हैं। अधिकतर मुस्लिम कारीगर इन दिनों कांवड यात्रियों के लिए पोशाक तैयार करने में जुटे हुए हैं।

इसमें मुस्लिम महिलाएं बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रही हैं। इन कारीगरों का मानना है कि ईश्वर अल्लाह सब एक हैं। पूजा-पाठ और इबादत का तरीका भले ही अलग-अलग हैं लेकिन सब एक ही खुदा के बंदे हैं। यह पोशाक बनाने को भी पूजा मानते हैं। इन्हें गर्व है कि भोले बाबा के दरबार में जाने वाले ये कांवड़ यात्री उनके हाथों की बनाई पोशाक धारण कर उनके दरबार में पहुंचते हैं।

यूपी में हर तरफ हर हर महादेव, बम बम भोले का जयघोष सुनाई दे रहा है। पिछले दो साल कोरोना की वजह से कांवड़ यात्रा नहीं हो पाई थी। जिससे इनका का रोजगार भी खत्म हो गया था। लेकिन दो साल बाद एक बार फिर से इनकी आंखों में चमक देखी जा सकती है। क्योंकि इस बार कांवड़ियों की भारी भीड़ देखने को मिल रही है।

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button