Cg News स्कूलों में जनप्रतिनिधियों व स्थानीय युवाओं के माध्यम से हरेली पर्व की वैकल्पिक व्यवस्था के निर्देश

Taaja khabar Aaj ka. बिलासपुर। राज्य सरकार ने 28 जुलाई को भव्य हरेली मनाने के निर्देश दिए थे। निर्देशों के तहत स्कूलों में गेड़ी नृत्य से लेकर अन्य आयोजन करने व उसके फोटोग्राफ्स भेजने के निर्देश दिए थे। पर कर्मचारियों व शिक्षकों की हड़ताल के चलते अब वैकल्पिक व्यवस्था करने के निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी बिलासपुर ने जारी किए हैं।

स्कूल शिक्षा विभाग ने बीते 18 जुलाई को सभी जिला शिक्षा अधिकारी को पत्र जारी कर शासकीय व अनुदान प्राप्त स्कूलों में हरेली मनाने के निर्देश जारी किए थे। जारी निर्देशो के तहत स्कूलों में जनप्रतिनिधियों व कृषि कार्य मे उल्लेखनीय योगदान निभाने वाले स्थानीय नागरिकों को अतिथि के रूप में स्कूलों में बुलवा कर गेड़ी नृत्य का आयोजन करने के निर्देश थे। इनमे से प्रथम, द्वितीय व तृतीय आने वाले छात्रों को इनके हाथों पुरस्कृत कर प्रशस्ति पत्र भी देना था।

इसके अलावा स्कूलों में प्राकृतिक बाउंड्रीबाल भी तैयार करना था। पर 25 जुलाई से कर्मचारियों व शिक्षको की हड़ताल के चलते स्कूलों में ताले लटक रहे हैं। इसलिए हरेली त्यौहारों के स्कूलों में भव्य आयोजन को खटाई में पड़ता देख जिला शिक्षा अधिकारी ने आदेश जारी कर वैकल्पिक व्यवस्था बनाने को कहा हैं।

जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा जारी आदेश के तहत शैक्षणिक समवन्यको व प्रधान पाठकों को निर्देश जारी किए गए हैं कि वो स्थानीय जनप्रतिनिधियों व स्थानीय युवाओं के सहयोग से हरेली व गेड़ी दौड़ प्रतियोगिता का आयोजन करें। इसके साथ ही छात्रों की भी अधिकाधिक उपस्थिति सुनिश्चित करें। कार्यक्रम की फोटोग्राफी करवा 5 अगस्त तक जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में मंगाया गया हैं।

Add a Comment

Your email address will not be published.